सोमवार, 29 अप्रैल 2013

रहता कुंठित मन
खोता चेन अमन
भावो को होता शमन
रिश्तो को सहता बेमन

                         संजय जोशी "सजग "

6 टिप्‍पणियां:

  1. शुभ प्रभात
    इसे कोई पहचानता नही है
    इसे घुमाने ले जाऊँगी
    सबसे जान-पहचान करवाऊँगी
    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  2. एक निवेदन
    कृपया निम्नानुसार कमेंट बॉक्स मे से वर्ड वैरिफिकेशन को हटा लें।
    इससे आपके पाठकों को कमेन्ट देते समय असुविधा नहीं होगी।
    Login-Dashboard-settings-posts and comments-show word verification (NO)

    अधिक जानकारी के लिए कृपया निम्न वीडियो देखें-
    http://www.youtube.com/watch?v=VPb9XTuompc

    धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं